इजराइल को क्यों करना पड़े दुनिया के Whatsapp यूजर्स के फोन हैक, भारत की बड़ी हस्तियां भी हैं लिस्ट में शामिल

    01-Nov-2019

 
 
* व्हाट्सएप के जरिए दुनिया भर में लगभग 1400 से फोन हुए हैक।
 
* भारत के लगभग 20 लोग भी है इस लिस्ट में शामिल।
 
* व्हाट्सएप ने इजराइली जासूसी कंपनी NSO के खिलाफ सनफ्रांसिस्को की कोर्ट दर्ज किया केस।
 
 
व्हाट्सएप ने मंगलवार को इजराइल के NSO(एनएसओ) ग्रुप पर व्हाट्सएप के जरिए दुनिया भर में लगभग 1400 से फोन को हैक करने का आरोप लगाया है।व्हाट्सएप ने पुष्टि की है कि भारत के राजनीतिक हस्तियों और कई बड़े पत्रकारों के फोन भी हैक किए गए हैं लेकिन अभी तक उन नामों का खुलासा नहीं किया है। इंडिया टुडे ग्रुप रिपोर्ट के मुताबिक बताया गया है कि इजरायल की जासूसी कंपनी पेगासस नाम की स्पाइवेयर से राजनीतिक हस्तियों, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं, वकीलों सहित दो दर्जन पत्रकारों को टारगेट कर शिकार बनाया और उनके फोन हैक किए हैं। व्हाट्सएप ने यह भी बताया है की एनएसओ द्वारा यह जासूसी लोकसभा चुनाव के दौरान अप्रैल और मई में की गई थी।
 
इजराइली कंपनी ने पेगासस (PEGASUS) नाम के स्पाइवेयर से केवल फोन में ताकझांक ही नहीं बल्कि ई-मेल (E-MAIL), फोन की इंटरनल फाइल्स (INTERNAL FILES), एस एम एस (SMS), लोकेशन (LOCATION), ब्राउजिंग हिस्ट्री (BROWSING HISTORHY), सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट (SOCIAL MEDIA NETWORKING SITES), फोटोज (PHOTOS), वीडियो (VIDEOS), CONTACT, फोन लॉग (PHONE LOG) डाटा (DATA) सभी से छेड़छाड़ कर सकती है।
 
व्हाट्सएप ने इजराइली जासूसी कंपनी NSO (एनएसओ) के खिलाफ सनफ्रांसिस्को की कोर्ट मैं केस दर्ज किया है लेकिन इसराइल ने व्हाट्सएप द्वारा लगाए गए इल्जाम से साफ इनकार कर दिया है। इजरायल का कहना है कि उन्होंने इसका इस्तेमाल केवल वैध सरकारी कंपनियों के लिए किया गया है।
 
व्हाट्सएप की इस रिपोर्ट की पुष्टि के बाद केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप से जवाब मांगा है और कहा कहा कि व्हाट्सएप, एनएसओ द्वारा हैक किए गए लोगों की सूची जल्द दे। व्हाट्सएप में अपना जवाब 4 नवंबर तक देने को कहा है।