सदी के महानायक ने बॉलीवुड में पूरे किए 50 साल, जानें कैसे पूरा किया अनवर अली से बादल गुप्ता तक का सफर

    07-Nov-2019

 
बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के महानायक, शहंशाह, बॉलीवुड के बिग बी और एंग्री यंग मैन अमिताभ बच्चन ने आज हिंदी फिल्मों में अपने 50 साल पूरे कर लिए हैं। आज भी उनके फैंस उनकी फिल्में उतने ही उत्साह से देखते हैं जितना पहले देखा करते थे। उनका कैरियर संघर्ष से भरा रहा है, उन्होंने शुरुआत में कई सारे उतार-चढ़ाव देखे लेकिन उसके बाद उन्होंने ऐसी रफ्तार पकड़ी के उनको रोक पाना मुश्किल हो गया। बॉलीवुड में सभी उनके साथ काम करना चाहते थे।
 
अमिताभ बच्चन का फिल्मी सफर
 
अमिताभ बच्चन के फिल्मी कैरियर की शुरुआत 1969 मैं ख्वाजा अहमद अब्बास की फिल्म सात हिंदुस्तान से शुरू हुई हुई थी जिसके लिए उन्हें नेशनल फिल्म अवार्ड की तरफ से बेस्ट न्यूकमर का अवार्ड मिला था। वह अब तक कुल 198 फिल्मों में काम कर चुके हैं। उनकी कई यादगार फिल्मों में कुछ फिल्में ऐसी हैं जिसे कभी नहीं बुलाया जा सकता जैसे-
 
* आनंद           1971
* जंजीर           1973
* शोले             1975
* दीवार           1975
* डॉन             1978
* कुली            1983
* अग्नीपथ       1990
* भूतनाथ        2008
* पिंक            2016
* बदला          2019
 
अमिताभ बच्चन के यादगार किरदार
 
 
* अग्नीपथ         - विजय दीनानाथ चौहान
* अजूबा           - अजूबा
* खुदा गवाह     - बादशाह खान
* सूर्यवंशम        - ठाकुर भानु प्रताप सिंह
* मोहब्बतें         - नारायण शंकर
* ब्लैक              - देवराज सहाय
* भूतनाथ          - भूतनाथ
* पिंक               - भास्कर बैनर्जी
* 102 नॅाट         - दत्तात्रेय वखारिया
    आउट         
 
अमिताभ बच्चन को केवल बड़े ही नहीं बच्चे भी बहुत प्यार करते हैं। उन्होंने भूतनाथ फिल्म के जरिए बच्चों को भी अपना फैन बना दिया था। भूतनाथ ने ना केवल बच्चों का मनोरंजन किया साथ ही बच्चों को एक मैसेज भी दिया कि किस तरह हमें अपने बड़ों का आदर और सम्मान करना चाहिए, उन्हें हमेशा खुश रखना चाहिए। भूतनाथ रिटर्न में भी फिल्म ने एक सोशल मैसेज दिया था।
 
अमिताभ बच्चन के जीवन के उतार-चढ़ाव
 
 
सभी का अपना-अपना वक्त होता है अमिताभ बच्चन भी अपने वक्त के सबसे बड़े सितारे बन गए थे। लेकिन एक समय ऐसा आया जब उनका फिल्म करियर खत्म होने की राह पर दिखने लगा था, फिर अचानक उनके जीवन में एक अच्छी घटना हुई या कह सकते हैं उन्हें अपने आप को साबित करने का एक मौका मिला। एक रियलिटी शो "कौन बनेगा करोड़पति" में उन्हें होस्ट बनाया गया। वहां से उनके जीवन में एक नया सवेरा हो गया कौन बनेगा करोड़पति के अब तक 11- सीजन आ चुके हैं जिसमें से उन्होंने तीसरे सीजन ( Season-3)के अलावा सारे सीजन किए हैं। लोग "कौन बनेगा करोड़पति" में केवल उनको ही देखना चाहते हैं, वह शो की छवि बन चुके हैं। जब वह अपनी कड़क आवाज में बोलते हैं "आइए देवियों सज्जनों चलिए शुरू करते हैं आज का शो कौन बनेगा करोड़पति" तो सभी उनकी तरफ आकर्षित हो जाते हैं। कौन बनेगा करोड़पति एक ऐसा रियलिटी शो है जो ना केवल मनोरंजन के लिए चला जाता है बल्कि इससे सभी को ज्ञान मिलता है और लोगों में पढ़ने की इच्छा जागती है।
 
अपनी भारी आवाज के लिए भी जाने जाते हैं अमिताभ
 
अमिताभ बच्चन एक अच्छे अभिनेता होने के साथ-साथ एक अच्छे वॉइस ओवर आर्टिस्ट भी है। उनकी कड़क आवाज से उन्होंने लोगों के दिलों में अपनी एक अलग छवि बनाई है। वह अब तक कई फिल्मों में बतौर वॉइस ओवर आर्टिस्ट काम सब कर चुके हैं। 2015 में आई फिल्म शमीताभ में अमिताभ बच्चन ने एक्टर के साथ-साथ बतोर वॉइस ओवर आर्टिस्ट काम कर फिल्म को पहतान दिलाई था।

अमिताभ बच्चन के कभी न भुलाए जाने वाले डायलॅाग्स
 
उनके डायलॉग बड़ों से लेकर बच्चों तक सभी को जुबानी याद है। उनकी कई फिल्में उनके डायलॉग्स की वजह से लोगों के जहन में बसी हुई हैं।
 
* शहंशाह - रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं नाम है शहंशाह।
 
* अग्नीपथ - पुरा नाम, विजय दीनानाथ चौहान, बाप का नाम, दीनानाथ चौहान, माँ का नाम, सुहासिनी चौहान, गाँव मंडवा, उमर छत्तीस साल।
 
* दीवार - आज मेरे पास बिल्डिंग है, प्रॉपर्टी है, बैंक बैलेंस है, बंगला है, गाडी है तुम्हारे क्या है, क्या है?
 
* शराबी - मूंछ हो तो नत्थूलाल जैसी वरना न हो।
 
* कालिया - हम जहां से खड़े हो जाते हैं लाईन वहीं से शुरू हो जाती है।
 
* बदला - बदला लेना हर बार सही नही होता, लेकिन माफ कर देना भी हर बार सही नही होता।